एनआरसी

  • नज़रियाPhoto of भारत में रोहिंग्या रचने की साजिश है असम में एनआरसी

    भारत में रोहिंग्या रचने की साजिश है असम में एनआरसी

    -कमल सिंह, वरिष्ठ पत्रकार असम इस बार जिस मुद्दे को लेकर सुर्खियों में है वह न तो असमिया व गैर असमिया अथवा असम की अस्मिता की पहचान का मुद्दा है न ही बोडो जनजातियों की स्वायत्ता का मुद्दा। अलग असम राज्य की मांग को लेकर उल्फा (यूनाइटेड लिबरेशन फ्रंट ऑफ असम) भी सुर्खियों की वज़ह नहीं है। राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर…

    Read More »
Back to top button
Close
Enable Notifications.    Ok No thanks