कोरोनाख़बरेंप्रमुख ख़बरें

तिरुपति बाला जी मंदिर के 1300 कर्मचारियों की नौकरी से छुट्टी

बेहिसाब संपत्ति वाले मंदिर की लॉकडाउन से कमाई घटने पर रिन्यू नहीं की संविदा, बरसों से कर रहे थे काम

आंध्रप्रदेश स्थिति देश के सबसे अमीर मंदिर तिरुपति बाला जी के प्रबंधन ने 1300 कर्मचारियों की नौकरी से छुट्टी कर दी।

लॉकडाउन के चलते मंदिर की कमाई पर असर पड़ा था इसलिए संविदा पर काम कर रहे इन कर्मचारियों की सेवाओं को 30 अप्रैल के बाद रिन्यू नहीं किया गया।

मंदिर प्रबंधन ने संविदा पर काम कर रहे 1300 कर्मचारियों को 1 मई से काम पर आने से मना कर दिया गया। मंदिर प्रशासन ने साफ कह दिया कि लॉकडाउन से काम बंद है इसलिए अनुबंध आगे नहीं बढ़ाया गया।

ये सभी कर्मचारी मंदिर ट्रस्ट की ओर से चलाए जाने वाले तीन गेस्ट हाउस विष्णु निवासम, श्रीनिवासम और माधवम में कई वर्षों से काम कर रहे थे।

कोरोना वायरस महामारी के चलते तिरुपति बालाजी मंदिर 20 मार्च से बंद है। मंदिर में दैनिक अनुष्ठान पुजारियों द्वारा किए जा रहे हैं। मौजूदा वित्तीय वर्ष के मंदिर का बजट 3,309 करोड़ रुपये है।

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं।)

Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Enable Notifications    OK No thanks