कुंडली औद्योगिक क्षेत्र में 22 मज़दूरों का पैसा लेकर फरार हुआ कंपनी मालिक

हरियाणा, सोनीपत के कुंडली औद्योगिक क्षेत्र में स्तिथ श्री क्याम फुटवेयर कंपनी के 22 मज़दूरों एक झटके में बेरोज़गार हो गए है।

कंपनी के मालिक ने मज़दूरों को सुचना दिए बिना ही बंद कर दिया। यह तक की सभी मज़दूरों का एक महीने का वेतन भी बकाया है।

मज़दूरों का आरोप है हम सभी को इस बात की कोई जानकारी नहीं थी कि कंपनी बंद होने वाली है। मज़दूरों ने कुंडली स्थित मज़दूर अधिकार संगठन के साथ मिल कर आज अपनी मांगों का एक सामूहिक ज्ञापन जिला कलेक्टर को सौंपा है।

वर्कर्स यूनिटी को सपोर्ट करने के लिए सब्स्क्रिप्शन ज़रूर लें- यहां क्लिक करें

मज़दूर अधिकार संगठन की सदस्य नोदीप ने वर्कर्स यूनिटी को बताया कि कुंडली इंडस्ट्रियल एरिया में स्तिथ श्री क्याम फुटवेयर कंपनी के मालित बजेन्द्र सिंह ने अचानक ही कम्पनी को बंद कर दिया और दिल्ली में स्थापित कर दिया।

मज़दूर बार-बार उनको फ़ोन करके अपने बकाया वेतन की मांग कर रहे लेकिन उनकी तरफ से कोई भी सकात्मक जवाब नहीं आरहा है। साथ ही संगठन का आरोप है कि मालिक मज़दूरों से बात करते समय अपशब्दों का इस्तमाल कर रहे हैं।

मज़दूरों का कहना है कि कम्पनी का मालिक उल्टा हम मज़दूरों पर चोरी का केस करने के धमकी दे रहा है। उन्होंने बताया कि कंपनी में 22 मज़दूर काम करते थे जिसमें महिलाये भी शामिल हैं। सभी का एक महीने का वेतन अभी बकाया है। जिसको दिए बिना ही कंपनी मालिक फरार हो गया है।

वही नोदीप का कहना है की यदि हमारी मांगों को पूरा नहीं किया गया तो हम धरना कर अपनी मांगों को पूरा करवाने का प्रयास करेंगे। मज़दूरों ने कुंडली स्थित मज़दूर अधिकार संगठन के साथ मिल कर आज अपनी मांगों का एक सामूहिक ज्ञापन जिला कलेक्टर को सौंपा है।

संगठन की मांग है कि सभी मज़दूरों का लाम्बिक वेतन दिया जाये। मज़दूरों को दी जाने वाली धमकियों पर कम्पनी मालिक के खिलाफ तत्काल कार्रवाही होनी चाहिए।

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं। वर्कर्स यूनिटी के टेलीग्राम चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें।)

One Comment on “कुंडली औद्योगिक क्षेत्र में 22 मज़दूरों का पैसा लेकर फरार हुआ कंपनी मालिक”

  1. Workers unity हमेशा मजदूरों की आवाज़ और हालत को लोगों तक लेकर जाता है। हम workers unity के काम की परशंसा करते हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.