ख़बरेंमेहनतकश वर्ग

झारखण्ड में मज़दूरी मांगने पर ज़िंदा जला कर हत्या

(Apr 24, 2019) बीजेपी सरकारों में मज़दूरों पर बर्बर अत्याचार की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं।

बीजेपी शासित झारखंड में एक मज़दूर को जला कर मार डालने की बर्बर घटना सामने आई है।

स्थानीय मीडिया में आई ख़बरों के अनुसार झारखंड के हज़ारी बाग में एक पत्थर पीसने वाले प्लांट में काम करने वाले एक मज़दूर को प्लांट मालिक के बेटे ने जला कर मार डाला।

पुलिस के अनुसार, बुधवार को हुई यह घटना रूद गांव की है। मरते हुए मज़दूर पन्नू ने पुलिस को अपना बयान दिया है।

ये भी पढें :- आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए चुनाव ड्यूटी अनिवार्य नहीं : चुनाव आयोग

मज़दूरी मांगने पर जिंदा जलाकर की हत्या

पुलिस के मुताबिक पन्नू उर्फ़ पन्नूलाल ने प्लांट के मालिक बोधा महतो से बीते रविवार को अपनी मज़दूरी मांगी थी।

दोनों के बीच मज़दूरी के दर पर तीखी बहस हो गई।

जिसके बाद मंगलवार की रात बोधा महतो का बेटा पन्नू को अपने साथ जबरदस्ती पकड़ कर ले गया।

मरने से पहले पन्नू ने पुलिस को बताया कि बोधा महतो के बेटे रबिंद्र महतो ने तीन लोगों की मदद से उसे रस्सी से बांध दिया था।

इसके बाद उस पर किरोसिन डालकर आग लगा दी। पन्नू को जलाने के बाद अपराधियों ने उन्हें झाड़ियों में फेंक दिया।

बाद में कराहने की आवाज़ सुनकर राहगीरों ने उन्हें नजदीक के अस्पताल में पहुंचाया, जहां इलाज़ के दौरान उनकी मौत हो गई।

ये भी पढें :- मुनाफ़े की भूख में महिला मज़दूरों का गर्भाशय निकलवाया जा रहा है

धार्मिक विद्वेष के चलते की बर्बर हत्या

पुलिस ने क्रशर मालिक बाप और बेटे के ख़िलाफ़ एफ़आईआर दर्ज कर उनकी तलाश शुरू कर दी है।

बीजेपी शासित राजस्थान में पिछले साल एक मज़दूर को कुल्हाड़ी से काट कर आग लगा देने की घटना सामने आई थी।

हालांकि इस हत्याकांड में मज़दूरी नहीं बल्कि एक भगवा आतंकी ने एक मुसलमान मज़दूर को धार्मिक विद्वेष के चलते बर्बर हत्या की थी।

ये भी पढें :- मिट्टी में दबने से 10 मनरेगा महिला मजदूरों की मौत

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं।)

Tags
Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Enable Notifications    Ok No thanks