एक्सचेंज ट्रेडेड फंड के जरिए शेयर बाजार में निवेश करेगा ESIC

सरकार के सामाजिक सुरक्षा निकाय कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ESIS) ने रविवार को अपने अधिशेष फंड को एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETFs) के जरिए शेयर बाजार में निवेश करने के प्रस्ताव …

एक्सचेंज ट्रेडेड फंड के जरिए शेयर बाजार में निवेश करेगा ESIC पूरा पढ़ें
https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2022/11/Modi-in-security-dress.jpg

गृह मंत्रियों का चिंतन शिविरः पूरे भारत को पुलिस राज में बदने की कोशिश- नज़रिया

By पी जे जेम्स केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में 27 और 28 अक्टूबर को फरीदाबाद में राज्यों के गृह मंत्रियों का दो दिवसीय ‘चिंतन शिविर’ (विचार-मंथन सत्र) …

गृह मंत्रियों का चिंतन शिविरः पूरे भारत को पुलिस राज में बदने की कोशिश- नज़रिया पूरा पढ़ें

ओवरटाइम पर एकमत क्यों नहीं हैं चीन के वर्कर?

इसी साल टेक्नोलॉजी सेक्टर में एक हाई प्रोफाइल वर्कर की मौत ने चीन में काम करने की जगहों पर ओवरटाइम कल्चर पर विवाद खडा हो गया था। हालांकि दूसरी ओर …

ओवरटाइम पर एकमत क्यों नहीं हैं चीन के वर्कर? पूरा पढ़ें
trump modi xi

गलवान घाटी-2ः एशिया प्रशांत में अमेरिका चीन की लड़ाई भारत के बॉर्डर तक कैसे पहुंची?

By कमल सिंह भारत-चीन के बीच जारी तनाव स्थलीय सीमा तक सीमित नहीं है। इसका व्यापक फलक है। हिंद महासागर और हिंद-प्रशांत में जारी वैश्विक शक्तियों की प्रति़द्वंद्वता भी बड़ी …

गलवान घाटी-2ः एशिया प्रशांत में अमेरिका चीन की लड़ाई भारत के बॉर्डर तक कैसे पहुंची? पूरा पढ़ें
trump xi America china

 पेट्रोल पर लूट-5ः अगर तेल आपूर्ति काट दी गई तो चीन के पास कितना तेल बचता है?

 By एसवी सिंह विश्व पूंजीवाद का संकट असाध्य होता जा रहा है। दुनियाभर में कहीं भी नया बाज़ार अब झपटने के लिए नहीं बचा है। नई तकनीक से उत्पादन कई गुना …

 पेट्रोल पर लूट-5ः अगर तेल आपूर्ति काट दी गई तो चीन के पास कितना तेल बचता है? पूरा पढ़ें
modi xi jin ping

गलवान घाटी-1: वो तीसरा देश कौन है जो चाहता है भारत-चीन के बीच युद्ध हो जाए?

By कमल सिंह गलवान घाटी में वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) पर 15 जून 2020 को हुए टकराव के बाद प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी जम्मू दौरे पर गए। वहां लेह में …

गलवान घाटी-1: वो तीसरा देश कौन है जो चाहता है भारत-चीन के बीच युद्ध हो जाए? पूरा पढ़ें
hospitals in india

कोरोनाः पूरी दुनिया में मेडिकल सुविधाओं को निजी हाथों से छीन लेने की मांग तेज़

By मुकेश असीम 20 हजार करोड़ का खर्च स्वीकृत हो गया है क्योंकि प्रधानमंत्री जी को नया बंगला, सांसदों को नया संसद भवन और अफसरों को नए दफ्तर की ख़्वाहिश …

कोरोनाः पूरी दुनिया में मेडिकल सुविधाओं को निजी हाथों से छीन लेने की मांग तेज़ पूरा पढ़ें