https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2022/06/Save-Hasdev-tribal-women.jpg

हसदेव अरण्यः सूख जाएगी हसदेव और अरपा नदी, हाथी और दुर्लभ पशु पक्षियों का जीवन ख़तरे में

By संदीप राउज़ी “हसदेव अरण्य दुनिया के सबसे घने जंगलों में से एक है, इसके विनाश से कई नदियां सूख जाएंगी, कई दुर्लभ पशु पक्षी, तितलियों का अस्तित्व खतरे में …

हसदेव अरण्यः सूख जाएगी हसदेव और अरपा नदी, हाथी और दुर्लभ पशु पक्षियों का जीवन ख़तरे में पूरा पढ़ें
https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2022/05/Drone-attack-in-Bijapur-000.jpg

बस्तर में आदिवासी इलाकों पर ड्रोन से हवाई हमले, सरकार का इनकार, पत्रकारों ने दिखाए सबूत

By संदीप राउज़ी छत्तीसगढ़ बस्तर संभाग में आदिवासी इलाकों में सीआरपीएफ़ ड्रोन (Drone Attack) से हवाई बमबारी कर रही है। ये गंभीर आरोप लगाया है सर्व आदिवासी समाज छत्तीसगढ़ के …

बस्तर में आदिवासी इलाकों पर ड्रोन से हवाई हमले, सरकार का इनकार, पत्रकारों ने दिखाए सबूत पूरा पढ़ें
https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2021/05/migrants.jpg
hasdev arand forest chattisgargh

भारत के सबसे पुराने जंगलों की छाती चीर बनेंगे 40 कोयला खदान, 6000 आदिवासी होंगे बेघर

By हन्ना एलिस पीटर्सन, द गार्जियन की दक्षिण एशिया संवाददाता पिछले एक दशक में, उमेश्वर सिंह अमरा ने अपनी मातृभूमि को एक युद्ध के मैदान के रूप में देखा है। …

भारत के सबसे पुराने जंगलों की छाती चीर बनेंगे 40 कोयला खदान, 6000 आदिवासी होंगे बेघर पूरा पढ़ें
workers on the road barefoot

मज़दूरों का ही पैसा मज़दूरों में बांट कर बजा दिया राहत का डंका

1996 में बने भवन व अन्य निर्माण मजदूर कानून के अंतर्गत राज्य सरकारें सभी किस्म के निर्माण व्यवसाइयों से मजदूरों के लिए सेस वसूल करती हैं। इसका कोष को एकत्र …

मज़दूरों का ही पैसा मज़दूरों में बांट कर बजा दिया राहत का डंका पूरा पढ़ें

मज़दूरों की जान सस्ती: रायपुर इस्पात फैक्ट्री में गर्म लोहे का टैंक गिरने से 12 मज़दूर झुलसे

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर स्थित एक इस्पात फैक्ट्री में बुधवार को  क्रेन का पट्‌टा टूटने से गर्म लोहे का टैंक नीचे गिरेने के कारण 12 मज़दूर बुरी तरह झुलस गए …

मज़दूरों की जान सस्ती: रायपुर इस्पात फैक्ट्री में गर्म लोहे का टैंक गिरने से 12 मज़दूर झुलसे पूरा पढ़ें
modi coal mines auction

एक फ़िल्म बताती है कि कैसे मज़दूरों ने अकेले दम पर खुद का अस्पताल खड़ा कर दिया

By संजय जोशी  2014 में भिलाई में रहने वाले और मजदूरों के बीच में काम करने वाले दस्तावेज़ी फ़िल्मकार अजय टी जी ने 53 मिनट लम्बी एक दस्तावेज़ी फ़िल्म बनाई। नाम था …

एक फ़िल्म बताती है कि कैसे मज़दूरों ने अकेले दम पर खुद का अस्पताल खड़ा कर दिया पूरा पढ़ें