https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2022/09/Matto-ki-cycle-a-film-by-Prakash-Jha.jpg

मट्टो की साइकिलः यह फिल्म हर मज़दूर को क्यों देखनी चाहिए?

By आशुतोष कुमार साइकिल मेरी प्रिय सवारी है। अलीगढ़ के शुरुआती सालों में साइकिल के सहारे ही सारा शहर धांगता फिरता था। यह कोई दो दशक पहले की बात है। …

मट्टो की साइकिलः यह फिल्म हर मज़दूर को क्यों देखनी चाहिए? पूरा पढ़ें
https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2022/09/Gayab-hota-desh.jpg

‘गायब होता देश’ और ‘एक्सटरमिनेट आल द ब्रूटस’ : एक ज़रूरी उपन्यास और डाक्युमेंट्री

By मनीष आज़ाद कुछ किताबें और फिल्में ऐसी होती हैं, जहाँ समय सांस लेता है। यहां सांस के उतार-चढ़ाव और गर्माहट को आप महसूस कर सकते हैं। रणेन्द्र का ‘गायब …

‘गायब होता देश’ और ‘एक्सटरमिनेट आल द ब्रूटस’ : एक ज़रूरी उपन्यास और डाक्युमेंट्री पूरा पढ़ें
https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2022/09/grapes-of-wrath.jpg