पंजाब : मनरेगा मजदूरों की मौत के 6 दिन बाद परिजनों को मिला 5-5 लाख रुपए का मुआवजा

https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2022/07/electrocution-death.jpg

पंजाब के फिल्लौर रेलवे स्टेशन के पास दो नरेगा मजदूरों की ट्रेन की चपेट में आने से छह दिन पहले मौत हो गयी थी। मृतकों के परिवारों को अतिरिक्त उपायुक्त (विकास) जालंधर वरिंदरपाल सिंह बाजवा ने पांच-पांच लाख रुपये का मुआवजा चेक सौंपा है।

साथ ही आश्वासन दिया है कि प्रत्येक परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की मांग पंजाब सरकार को मंजूरी के लिए भेजी जाएगी। मृतकों के शवों का अंतिम संस्कार कर दिया गया।

ये भी पढ़ें-

आप को बता दें कि बीते गुरुवार को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) के दो मजदूर अवतार सिंह (55) और राम लुभया (65) संगरूर में खेतिहर किसानों और मज़दूरों के विरोध प्रदर्शन से वापस लौट रहे थे। फिल्लौर रेलवे स्टेशन के पास एक ट्रेन से टकरा गए और उनकी मौत होगयी।

जिसके बाद पेंडू खेत मजदूर यूनियन ने विरोध प्रदर्शन कर प्रत्येक परिवार के लिए 10-10 लाख रुपये मुआवजे की मांग की थी।

राजमार्ग बंद करने का किया था ऐलान

यूनियन ने ऐलान किया था कि 20 सितंबर को लुधियाना-जालंधर राजमार्ग को बंद कर विरोध प्रदर्शन करेंगे। लेकिन प्रशासन ने प्रदर्शन से पहले ही यूनियन की मांगों पर सहमति जाहिर कर दी।

पेंडू खेत मजदूर यूनियन के राज्य प्रेस सचिव कश्मीर सिंह ने कहा, “सोमवार को एडीसी जनरल जालंधर के साथ बातचीत विफल हो गई थी।

जिसके बाद यूनियन ने 20 सितंबर को लुधियाना-जालंधर राजमार्ग को अवरुद्ध करने का आह्वान किया था। उन्होंने बताया कि प्रदर्शन शुरू होने से पहले हमें प्रशासन से फोन आया कि वे मुआवजे के चेक के साथ आ रहे हैं। एडीसी (डी) द्वारा अवतार और राम लुभया के परिजनों को चेक सौंपे गए। उनका कहना था कि दोनों मजदूरों के शवों का मंगलवार दोपहर उनके गांवों में अंतिम संस्कार किया गया।

ये भी पढ़ें-

गौरतलब है कि संगरूर में बीते कई दिनों से जमीन प्राप्ति संघर्ष कमिटी के साथ मिलकर कुल आठ मज़दूर संघ अपनी लंबित पड़ी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। इसी प्रदर्शन में भाग लेने गए थे दोनों मज़दूर।

वर्कर्स यूनिटी को सपोर्ट करने के लिए सब्स्क्रिप्शन ज़रूर लें- यहां क्लिक करें

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं। वर्कर्स यूनिटी के टेलीग्राम चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें।)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.