https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2022/07/Himanshu-Kumar-1.jpg

अब मशहूर गांधीवादी हिमांशु कुमार पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाया 5 लाख रु. का ज़ुर्माना

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को प्रसिद्ध आदिवासी अधिकार कार्यकर्ता और गांधीवादी हिमांशु कुमार पर आदिवासियों के लिए इंसाफ़ मांगने के लिए पांच लाख रुपये का ज़ुर्माना लगाया है। साल 2009 …

अब मशहूर गांधीवादी हिमांशु कुमार पर सुप्रीम कोर्ट ने लगाया 5 लाख रु. का ज़ुर्माना पूरा पढ़ें
Thousands of adivasis protesting on the road

दसियों हजार आदिवासियों के प्रदर्शन की ख़बर मीडिया से गायब क्यों?

संदीप राउज़ी, बस्तर, छत्तीसगढ़ से: बीते एक साल से बस्तर के जंगल में सीआरपीएफ कैंप के पास धरने पर बैठे आदिवासियों के विशाल प्रदर्शन की खबर स्थानीय मीडिया में हाशिए …

दसियों हजार आदिवासियों के प्रदर्शन की ख़बर मीडिया से गायब क्यों? पूरा पढ़ें
Adivasi protesters and paramilitary personnel face off at Silger
https://www.workersunity.com/wp-content/uploads/2021/09/CCA-Jharkhand.jpg

आदिवासी मज़दूर नेता को कुख्यात अपराधी बता किया ज़िलाबदर, रोज़ 100 किमी. दूर थाने में हाज़िरी का आदेश

By रूपेश कुमार सिंह, स्वतंत्र पत्रकार झारखंड के पश्चिम सिंहभूम जिला के झींकपानी थानान्तर्गत जोड़ापोखर हाई स्कूल कॉलोनी निवासी झारखंड कामगार मजदूर यूनियन एवं अखिल भारतीय क्रांतिकारी आदिवासी महासभा के …

आदिवासी मज़दूर नेता को कुख्यात अपराधी बता किया ज़िलाबदर, रोज़ 100 किमी. दूर थाने में हाज़िरी का आदेश पूरा पढ़ें
niyamgiri girls @ Workers Unity

आदिवासी गांवों की आबादी एक तिहाई हुई कम, सामान्य आबादी की तुलना में तेजी से बढ़ा टीबी

देश में आदिवासी बहुल गांवों की आबादी में 32 फीसदी की कमी आई है। इसके अलावा आदिवासियों में खराब पोषण, धुम्रपान और शराब के कारण फुफ्फुसीय टीबी का प्रसार सामान्य …

आदिवासी गांवों की आबादी एक तिहाई हुई कम, सामान्य आबादी की तुलना में तेजी से बढ़ा टीबी पूरा पढ़ें

गोवा में आदिवासियों की बड़ी जीत, सरकार को पीछे हटने पर किया मज़बूर

गोवा के शेल-मेलावली गांव के आदिवासियों को एक बड़ी जीत मिली है। गांव वाले पिछले कई महीनों से अपनी भूमि पर आईआईटी कैम्पस बनाए जाने का विरोध कर रहे थे। …

गोवा में आदिवासियों की बड़ी जीत, सरकार को पीछे हटने पर किया मज़बूर पूरा पढ़ें
Manrega Bihar rohtas 7

छह महीने से नहीं मिली मज़दूरीः बिहार के मनरेगा मज़दूर कैमरे की नज़र से

By रितिक जावला लॉकडाउन में मज़दूरों पर जो कहर बरपा उसे दिल्ली मुंबई सूरत की सड़कों पर देखा, लेकिन बिहार में रहकर अपनी ज़िंदगी गुज़ारने वाले मनरेगा मज़दूरों का हाल …

छह महीने से नहीं मिली मज़दूरीः बिहार के मनरेगा मज़दूर कैमरे की नज़र से पूरा पढ़ें
kamour bihar village people transportation

कैमरे की नज़र में बिहार में बहार का सच!

By रितिक जावला ये तस्वीर दक्षिणी बिहार के यूपी से सटे ज़िले कैमूर की है, जहां आदिवासी बहुल आबादी रहती है और अभी इस इलाक़े को बाघ संरक्षण क्षेत्र घोषित …

कैमरे की नज़र में बिहार में बहार का सच! पूरा पढ़ें
koya tribal families evicted from their lands