Air indiaएयर इंडियाकोरोनाख़बरेंप्रमुख ख़बरें

कर्मचारियों को जबरन छुट्टी पर भेजेगी एयर इंडिया, लिस्ट हो रही तैयार

नीलामी की कगार पर खड़ी एयर इंडिया के कर्मचारियों में फोर्स लीव पर भेजने की खबर से खलबली

संकट के दौर से गुजर रही एयर इंडिया की हालत और ज्यादा पतली हो गई है। एयरलाइन छंटनी के साथ-साथ कर्मचारियों को जबरन छुट्टी पर भेजने वाली है। इसके पीछे कोरोना महामारी का असर बताया जा रहा है।

सरकार इस कंपनी की नीलामी के लिए पूरी तैयारी कर चुकी है, लेकिन महामारी के दौरान तिथियां कई बार टाल दी गईं।

जानकारी के मुताबिक, हेडक्वॉर्टर में डिपार्टमेंट हेड और रीजनल डायरेक्टर्स हर कर्मचारी का मूल्यांकन करेंगे। फिर कर्मचारियों की एक लिस्ट तैयार की जाएगी और बाद में इस पर सीएमडी का ठप्पा लगेगा।

कर्मचारियों के मूल्यांकन के दौरान मैनेजमेंट यह देखेगा कि कोई कर्मचारी काम के लिए कितना उपयुक्त है, कितना कुशल है, क्षमता का स्तर क्या है, काम की गुणवत्ता कैसी है, सेहत कैसी है, बीती नौकरी के दौरान छुट्टियों को लेकर रिकॉर्ड कैसा रहा है।

यहां बता दें, जिन सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों को निजी हाथों में देने की प्रक्रिया चल रही है, वहां सभी जगह कमोबेश इसी तरह छंटनी के तरीके निकाले जा रहे हैं। लगभग इसी तरह की प्रक्रिया रेलवे में भी लंबे अरसे से लागू करने के प्रयास हो रहे हैं।

पिछले दिना महाराष्ट्र की कुछ आईटी कंपनियों ने कर्मचारियों को फोर्स लीव पर भेजने का प्रयास किया था, जिस पर श्रम विभाग ने सख्ती का रुख अपनाया। कंपनियों को आदेश वापस न लेने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 के तहत कार्रवाई की चेतावनी दी गई।

धारा 51 कहती है कि केंद्र या राज्य सरकार संबंधी किसी भी प्राधिकरण के अधिकारी या कर्मचारी को उसके कार्य के पालन में बाधा उत्पन्न करना अधिनियम का उल्लंघन है। इसके तहत आदेश करने वाले प्राधिकृत अधिकारी या कार्य का पालन न करने वाले को एक साल की सजा या फिर जुर्माने सहित सजा का प्रावधान है।

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं। वर्कर्स यूनिटी के टेलीग्राम चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें।)

Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Enable Notifications    Ok No thanks