ख़बरेंप्रमुख ख़बरेंमेहनतकश वर्ग

दलित बच्ची से दुष्कर्म के विरोध पर पंजाब खेत मजदूर यूनियन नेता लक्ष्मण सिंह सेवेवाला गिरफ्तार

दोषियों की गिरफ्तारी न होने पर किया था धरना देने का ऐलान, पुलिस कार्रवाई से जनसंगठनों में आक्रोश

दलित बच्ची से दुष्कर्म के आरोपियों की गिरफ्तारी न होने पर धरना देने का ऐलान भी पंजाब पुलिस को अखर गया। धरना देकर विरोध जताने की घोषणा भर से पंजाब खेत मजदूर यूनियन के जनरल सेक्रेट्री लक्ष्मण सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया। जनसंगठनों के विरोध प्रदर्शन के बाद आज उन्हें रिहा किया गया।

खेत मजदूर यूनियन ने 20 अगस्त को लंबी थाने के मिठड़ी गाँव, मुक्तसर में दलित बच्ची के साथ हुए दुराचार के दोषियों की गिरफ्तारी के लिए धरना देने की घोषणा की थी। यूनियन नेता की गिरफ्तारी से आम लोगों में आक्रोश है।

कारखाना मज़दूर यूनियन, टेक्सटाइल-हौजऱी कामगार यूनियन, नौजवान भारत सभा, पंजाब स्टुडेंट्स यूनियन (ललकार), पेंडू मज़दूर यूनियन (मशाल) समेत पंजाब के तमाम जनवादी जनसंगठनों ने लक्ष्मण सिंह सेवेवाला की गिरफ्तारी की सख्त निंदा कर एकजुट होने होकर जनविरोधी व्यवस्था को मुंहतोड़ जवाब देने की अपील की है।

यहां बता दें, लगभग इसी तरह के मामले में छह साल पहले भी पुलिस ने ऐसी कार्रवाई की थी। मुक्तसर जिले के गांव गंधड़ की सामूहिक दुष्कर्म की शिकार बनी पीडि़ता को इंसाफ दिलाने के लिए गांववासियों व खेत मजदूर यूनियन व किसान नेताओं ने बठिंडा स्थित आईजी के घर के बाहर धरना दिया।

धरने पर बैठे लोगों को पुलिस ने बलपूर्वक उठा दिया। जबकि, इससे ठीक एक दिन पहले पीडि़ता के परिजनों को गिरफ्तार किया गया था। औरत के जत्थों के साथ लोगों ने फिर से बठिंडा में धरना दिया, जब पुलिस ने धरना देने वालों को गिरफ्तार कर लिया।

(वर्कर्स यूनिटी स्वतंत्र निष्पक्ष मीडिया के उसूलों को मानता है। आप इसके फ़ेसबुकट्विटर और यूट्यूब को फॉलो कर इसे और मजबूत बना सकते हैं। वर्कर्स यूनिटी के टेलीग्राम चैनल को सब्सक्राइब करने के लिए यहां क्लिक करें।)

Show More

Related Articles

Back to top button
Close
Enable Notifications    Ok No thanks